संविदा सफाईकर्मियों को आकस्मिक और महिला सफाईकर्मियों को प्रसूति अवकाश की सुविधा, संविदा सफाईकर्मियों का बढ़ा वेतन, - UP Government Shasanadesh (GO) : शासनादेश उत्तरप्रदेश,Government Order, UPGO
  • Latest Government Order

    सोमवार, 25 जुलाई 2016

    संविदा सफाईकर्मियों को आकस्मिक और महिला सफाईकर्मियों को प्रसूति अवकाश की सुविधा, संविदा सफाईकर्मियों का बढ़ा वेतन,

    चुनावी साल में सफाईकर्मियों को लुभाने के लिए सपा सरकार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। संविदा पर 40 हजार और सफाईकर्मियों की भर्ती करने के साथ ही सरकार पहले से संविदा पर कार्यरत सफाईकर्मियों को भी अब आकस्मिक अवकाश (सीएल) और महिला सफाईकर्मियों को प्रसूति अवकाश की सुविधा देने का भी फैसला किया है।

    नगर विकास सचिव श्रीप्रकाश सिंह की ओर से सोमवार को जारी शासनादेश के मुताबिक सूबे के नगर निगम, नगर पालिका परिषद और नगर पंचायतों में कार्यरत सभी संविदा सफाईकर्मियों को अब सालभर में 20 दिन का आकस्मिक अवकाश मिलेगा।

    संविदा पर कार्यरत महिला सफाईकर्मियों को अब राज्य कर्मियों की भांति छह माह का प्रसूति अवकाश भी मिलेगा। उल्लेखनीय है कि वेतन समिति (2008) की संस्तुतियों को मानते हुए सपा सरकार संविदा सफाईकर्मियों का वेतन पहले ही बढ़ा चुकी है।

    👉संविदा सफाईकर्मियों का बढ़ा वेतन :

    राज्य सरकार ने सूबे की तीन और नगर पंचायत सैयदराजा (चंदौली), रोजा (शाहजहांपुर), मोहनपुर (कासगंज) के संविदा सफाईकर्मियों का वेतन बढ़ाने का भी फैसला किया है। मौजूदा महंगाई भत्ते को देखते हुए संविदा सफाईकर्मियों को फिलहाल प्रतिमाह 14910 रुपये मिलेंगे।

    संविदा सफाईकर्मियों के बढ़े हुए वेतन का वित्तीय भार संबंधित निकायों को ही उठाना होगा। गौरतलब है कि तत्कालीन मुलायम सरकार द्वारा पूर्व में रखे गए 59,953 संविदा सफाईकर्मियों को वेतन समिति (2008) की संस्तुतियों के मुताबिक वेतन देने का फैसला राज्य सरकार ने कर रखा है।

    ऐसे में संविदा सफाईकर्मियों का न्यूनतम वेतन 5200 रुपये, ग्रेड वेतन 1800 रुपये व मौजूदा डीए का 7910 रुपये मिलाकर कुल 14910 रुपये प्रतिमाह बनता है जबकि अभी ऐसे सफाईकर्मियों को लगभग चार हजार से 5250 रुपये प्रतिमाह तक ही मिल रहा है। विदित हो कि अब 559 निकायों के संविदा सफाईकर्मियों को वेतन समिति (2008) की संस्तुतियों के मुताबिक वेतन मिलने लगा है।